पाक मूल की अंतरिक्ष यात्री ने दिया पाक के मंत्री को जवाब, की चंद्रयान-2 जबरदस्त की तारीफ

पूरी दुनिया जहां भारत के महत्वाकांक्षी मून मिशन चंद्रयान-2 के लिए इसरो और भारतीय वैज्ञानिकों की लोहा मान रही है, वहीं पड़ोसी मुल्क पाकिस्तान यहां भी अपनी ओछी हरकत दिखाने से बाज नहीं आया। दरअसल लैंडिंग से ठीक पहले लैंडर विक्रम से संपर्क टूटने के बाद पाकिस्तान के विज्ञान और तकनीकी मंत्री चौधरी फवाद हुसैन ने बेहूदा टिप्पणी की।


GOOGLE


फवाद के बयान पर पाकिस्तानी सोशल मीडिया यूजर्स ने तीखे जवाब दिए। एक यूजर ने लिखा- कोई फवाद चौधरी का टेलीविजन इंटरव्यू करो। उससे पाकिस्तानी स्पेस प्रोग्राम के बारे में सवाल करो। उससे पूछो कि वह एस्ट्रोनॉमी और एस्ट्रोफिजिक्स के बारे में क्या जानता है। या फिर केवल इतना पूछो कि मून पर सॉफ्ट लैंडिंग के मायने क्या होते हैं।


GOOGLE


लेकिन पाकिस्तान की पहली महिला अंतरिक्ष यात्री नमीरा सलीम ने चंद्रयान-2 मिशन और चंद्रमा पर उतरने के ऐतिहासिक प्रयास पर भारतीय अंतरिक्ष और अनुसंधान संगठन (इसरो) को बधाई दी है। सलीम ने कहा कि मैं भारत और इसरो को चंद्रमा के दक्षिण ध्रुव पर विक्रम लैंडर की सफल नरम लैंडिंग करने के ऐतिहासिक प्रयास के लिए बधाई देता हूं।


GOOGLE


यह टिप्पणी उस समय हुई जब शनिवार को चंद्रमा के दक्षिण ध्रुव पर निर्धारित लैंडिंग स्पॉट से सिर्फ 2.1 किलोमीटर की दूरी पर चंद्रमा के लैंडर विक्रम और ऑर्बिटर के बीच संपर्क टूट गया।

Source : Internet