बीवी को देता था ताने - तेरे घरवालों ने मुझे घोड़ी पर नहीं बैठाया, जज ने बैंड बाजों के साथ कोर्ट में निकलवा दी बारात

नमस्कार दोस्तों स्वागत है आपका हमारी इस रोचक न्यूज़ पर, आज की पोस्ट में हम आपको पति पत्नी के झगड़े के बारे में बताने वाले जो पढ़कर आप अपनी शायद ही रोक पाएंगे। एक पति की ऐसी जिद थी जिस वजह से उनका तलाक लगभग होने जा रहा था, वह छोटी सी बात की वजह से यह मामला पारिवारिक कोर्ट तक गया था।

इस वजह से हुआ झगड़ा:

 वर्ष 2008 में शादी के बाद से पति अकसर अपनी पत्नी से इसी बात पर लड़ता था कि तुम्हारे घर वालों ने मुझे घोड़ी पर नहीं बिठाया, जब भी कोई विवाद होता तब भी यही बात उनके बीच की दूरियों की वजह बन जाती। देवास के रहने वाले पवन कुमावत की शादी मालसा खेड़ा निवासी करुणा से हुई थी।

शादी में पवन घोड़ी पर नहीं बैठ सका था इसी वजह से शादी के बाद अकसर वो पत्नी करुणा को ताने मारता था। यह मामूली सी बात इतनी आगे बढ़ गई कीपत्नी अपने साथ बेटे को ले गई थी और दोनों बेटियों को पति के पास ही छोडक़र चली गई। इस बात से परेशान होकर करुणा अपने मायके चली गई।

पारिवारिक कोर्ट तक पहुंच गया मामला:

पति ने कई बार बीवी को बुलाने की कोशिश की लेकिन वो नहीं आई और तीन साल पहले यह मामला पारिवारिक कोर्ट तक पहुंचा। शनिवार को देवास में हुई लोक अदालत रखी और करुआ और पवन को आने का बोला, जब दोनों ने मुद्दा बताया तो जज भी वजह जानकर आश्चर्य में आ गए।

कोर्ट नेदिया यह फैसला:

मामले के जड़ तक जाने के बाद जज साहब को समझ गया की पति की छोटी सी बात को लेकर झगड़े होते थे। कोर्ट ने तुरंत यह निर्णय लिया की शनिवार यानि 14 दिसंबर को पति को कोर्ट से घर तक घोड़ी पर बैठाएंगे। फिर क्या था कोर्ट के आसपास पवन की बारात घुमाने के बाद न्यायाधीशों ने मिलकर बरातियों के खाने-पिने की व्यवस्था कोर्ट की कैंटीन में ही की और ढोल-ढमाकों के साथ उसकी बारात निकाली।

दोस्तों इस रोचक घटना के बारे में आपकी राय क्या है नीचे कमेंट कर बताएं।
बीवी को देता था ताने - तेरे घरवालों ने मुझे घोड़ी पर नहीं बैठाया, जज ने बैंड बाजों के साथ कोर्ट में निकलवा दी बारात बीवी को देता था ताने - तेरे घरवालों ने मुझे घोड़ी पर नहीं बैठाया, जज ने बैंड बाजों के साथ कोर्ट में निकलवा दी बारात Reviewed by Realpost today on 7:22 AM Rating: 5
Powered by Blogger.