3 घंटे दर्द से छटपटाती रही मां, फिर जन्मे हरे रंग के बच्चे को देख हैरान रह गई दुनिया

नार्थ कैरोलिना: सोशल मीडिया पर इन दिनों नार्थ कैरोलिना में जन्में लाइम ग्रीन कलर के कुत्ते के बच्चे की काफी चर्चा हो रही है। कोई इसे हल्क बता रहा है तो कोई पिकाचू। जर्मन शेफर्ड जिप्सी ने 10 जनवरी को तीन घंटे दर्द से छटपटाने के बाद बच्चों को जन्म दिया। जैसे ही उसका एक बच्चा बाहर आया, लोग हैरान रह गए। उसका रंग नींबू जैसा था। उसे पहली बार देख सभी हैरान हो गए थे।
जिप्सी ने कुल आठ बच्चों को जन्म दिया, जिसमें से एक का रंग हरा था। सभी बच्चे स्वस्थ हैं।

एक्सपर्ट्स का कहना है कि ऐसा गर्भ में मेकोनियम के बच्चेदानी में मिलने के कारण होता है। इस पिग्मेंट के कारण बच्चे का रंग बदल जाता है।

कई मामलों में समय के साथ ये रंग बदल भी जाता है। ऐसा ही कुछ इस नन्हे हल्क के साथ हो रहा है। इसका रंग अब पीला होता जा रहा है।
मालकिन शना के मुताबिक, जिप्सी हमेशा अपने बच्चों को साफ़ करती रहती है।

शुरुआत में शना को लगा कि हरे रंग का बच्चा बीमार है। इसलिए उसने इंटरनेट का सहारा लिया। लेकिन फिर बच्चे को घूमता और भौंकता देख थोड़ी रिलेक्स हुई।

शना ने हरे बच्चे का नाम हल्क रखा है। अब चूंकि उसका रंग पीला हो रहा है इसलिए सभी उसे पोकीमोन भी बुलाते हैं। फिलहाल इसकी तस्वीरें सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है।
3 घंटे दर्द से छटपटाती रही मां, फिर जन्मे हरे रंग के बच्चे को देख हैरान रह गई दुनिया 3 घंटे दर्द से छटपटाती रही मां, फिर जन्मे हरे रंग के बच्चे को देख हैरान रह गई दुनिया Reviewed by Realpost today on 4:17 AM Rating: 5
Powered by Blogger.