सोच समझकर ही करवाएं बॉडी के किसी भी हिस्से में पियर्सिंग, इसे करवाने से जुड़े होते हैं कई खतरें

कई लोगों को बॉडी पियर्सिंग करवाने का काफी शौक होता हैं और लोग शरीर के कई हिस्सों में छेद करवा लेते हैं। लेकिन बॉडी पियर्सिंग को सही नहीं माना जाता है और बॉडी पियर्सिंग करवाने से शरीर को कई तरह के नुकसान पहुंच सकते हैं। इसलिए अगर आप शरीर के किसी हिस्से में छेद करवाने की सोच रहे हैं तो ये आर्टिकल जरूर पढ़ें।

शरीर के किन हिस्सों में करवाई जाती है बॉडी पियर्सिंग

पहले के समय में कान और नाक में ही छेद करवाए जाते थे। लेकिन बदलते समय के साथ लोग शरीर के अन्य हिस्सों जैसे होंठों, नाभि, हाथों और आखों के ऊपर भी छेद करवाने लग गए हैं । शरीर के इन हिस्सों को बेहद ही सेवदशील माना जाता है और इन हिस्सों में छेद करवाने से कई तरह के खतर जुड़े हुए हैं।

बॉडी पियर्सिंग से शरीर को पहुंच सकते हैं ये नुकसान-

संक्रमण का खतरा


बॉडी पियर्सिंग करवाते समय अक्सर खून निकलता है, जिसके चलते कई बार खून में संक्रमण होने का खतरा बढ़ जाता है। इसलिए आप बॉडी पियर्सिंग करवाते समय सावधानी बरते और हमेशा साफ बॉडी पियर्सिंग मशीन से ही अपने शरीर के हिस्से में छेद करवाएं।

एलर्जी का खतरा

पियर्सिंग वाले हिस्से में कई बार एलर्जी भी हो जाती है और जिस जगह पर छेद किया जाता है वहां पर सूजन आ जाती है। यहां तक की कई बार तो छेद वाले हिस्से में दाने भी निकल आते हैं। इसलिए आप जब भी बॉडी पियर्सिंग करवाएं तो ये देख लें की बॉडी पियर्सिंग के लिए इस्तेमाल की जाने वाली मशीन साफ हो और लोहे की बिल्कुल ना हो।

पहुंचती है क्षति


कई लोगों को नाभि पर पियर्सिंग करवान पसंद होते हैं। मगर नाभि पर गलत तरह से पियर्सिंग होने से आपकी तंत्रिका को क्षतिग्रस्त पहुंच सकती है। नाभि की तरह ही आंखो के ऊपर भी पियर्सिंग करवाते समय काफी ध्यान देना चाहिए क्योंकि कई बार गलत तरह से पियर्सिंग करने से आंखों की नस्सों पर बुरा असर पड़ सकता है।

बॉडी पियर्सिंग के समय रखें इन बातों का ध्यान-

अगर आप बॉडी के किसी हिस्से पर पियर्सिंग करवाने जा रहे हैं तो नीचे बताई गई बातों का जरूर ध्यान रखें और सोच समझ कर ही बॉडी के किसी भी हिस्से में पियर्सिंग करवाएं।

सही जगह से करवाएं पियर्सिंग

ऐसे कई मामले देखने को मिलते हैं जहां पर गलत तरीके से लोग पियर्सिंग कर देते हैं और ऐसा होने से पियर्सिंग वाले हिस्से को नुकसान पहुंच जाता है। इसलिए आप जब भी बॉडी पियर्सिंग करवाएं तो केवल किसी प्रोफेशनल इंसान से ही करवाएं। क्योंकि प्रोफेशनल  लोगों को ये पता होता है कि शरीर के किस हिस्से पर किस तरह से पियर्सिंग की जाती है।

डेटॉल का करें इस्तेमाल


शरीर के किसी भी हिस्से पर पियर्सिंग करवाने के बाद आप तुरंत डेटॉल का इस्तेमाल करें। क्योंकि डेटॉल लगाने से संक्रमण होने का खतरा कम हो जाता है। इसके अलावा आप पियर्सिंग करवाने के बाद केवल अच्छी क्वालिटी वाली ज्वेलरी ही पहनने। क्योंकि घटिया क्वालिटी की ज्वेलरी पहनने से सूजन हो सकती है या तक की रेशा भी पड़ सकता है।
सोच समझकर ही करवाएं बॉडी के किसी भी हिस्से में पियर्सिंग, इसे करवाने से जुड़े होते हैं कई खतरें सोच समझकर ही करवाएं बॉडी के किसी भी हिस्से में पियर्सिंग, इसे करवाने से जुड़े होते हैं कई खतरें Reviewed by Realpost today on 8:24 PM Rating: 5
Powered by Blogger.